कार का आविष्कार किसने किया और कब किया।2021

कार का आविष्कार किसने किया ?  : दोस्तों आज के समय में यातायात के लिए सबसे आनंदमय साधन कार है, इसकी सहायता से हम दूर देश की यात्रा बड़े ही कम समय में आराम से कर सकते हैं।

दोस्तों आज के समय में एक से बढ़कर एक कार दुनिया में मौजूद है जो की अपनी अलग अलग खूबी के कारण प्रसिद्ध है।

दोस्तों आज हम बात करेंगे की कार का आविष्कार किसने किया तो यदि आप कार के आविष्कार के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस पोस्ट को पूरा पढ़ें जिससे आपको पूरी जानकारी मिल सके।

कार का आविष्कार किसने किया और कब हुआ?

मोटरसाइकिल का आविष्कार के बाद व्यक्तिगत यातायात के साधनों के लिए सभी इंजीनियर एक ऐसे मोटर वाहन के निर्माण में लग गए जो मोटरसाइकिल से भी लंबी दूरी के लिए योग्य हो एवं मोटरसाइकिल से काफी सुरक्षित हो।

1880 के दशक में सभी इंजीनियरों ने मिलकर कार का निर्माण किया था। जिसे हम आज अपने यातायात के साधन के रूप में उपयोग में लाते हैं।

आज के समय में भारत के छोटे-छोटे शहरों एवं गांव में भी के सड़कों में भी कार बहुत ही आसानी से दिखाई पड़ती है परंतु इन कारों की भीड़ के कारण आज सड़कों पर जाम लगने लगे हैं। पहले के समय में भारत में कारों की गिनती कुछ गिनी चुनी हुआ करती थी एवं सड़के भी बहुत खाली हुआ करती थी।

भारत में बनने वाली पहली मोटर कार को कोलकाता के मिस्टर पोस्टर के मालिक क्रॉम्पटन ग्रीवेंस ने 1897 में खरीदा था। उसी वक्त 1898 में मुंबई शहर में चार कार खरीदी गई थी। इन्हीं चार कारों में से एक कार को टाटा कंपनी के मालिक जमशेदजी टाटा ने भी खरीदा था। उसके बाद धीरे-धीरे कई कंपनियाँ बहुत ही अलग अलग ढंग के डिजाइन बनाने लगे जिससे कार और भी शानदार और फीचर्स हाईटेक होने लगे।

फ्रांस के निकोलस जोसेफ कगनोट ने 1769 आर्मी की मांग पर दुनिया की पहली कार्य का निर्माण किया था। यह कार दिखने में काफी शानदार लगती थी। दुनिया में बनने वाली यह पहली कार दिखने में वैसे नहीं थी जैसी आज के समय में कार हुआ करती है।

इस कार्य को लोगों के सामने 1769 में प्रस्तुत किया गया था। इस कार का निर्माण फ्रांस में केवल आर्मी के लिए हुआ था जिसमें उनकी सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा गया था। यह कार भाप से चलने वाली कार थी जिसे बिना किसी व्यक्ति के मदद के सड़क पर चलने के योग्य बनाया गया था।

जिससे आर्मी इस कार पर अपने सारे हथियार बम गोले आदि को रखकर एक स्थान से दूसरे स्थान तक सुविधा पूर्वक जा सके।

कार्ल बेंज ने दुनिया की पहली सफलता पूर्वक कार का आविष्कार किया था। जर्मन मैकेनिकल इंजीनियर कार्ल बेंज दुनिया के वह पहले व्यक्ति थे जिन्होंने इंटरनल कॉम्बस्शन इंजन से चलने वाली पहली कार को 1885 में बनाया था।

कार का आविष्कार किसने किया।
कार का आविष्कार किसने किया।

Read Also : Radio ka avishkar kisne kiya। Full Details

Read Also : Television Ka Avishkar Kisne Kiya। Full Details

कार्ल बेंज और उनकी कार की मुख्य बातें

1. जैसा कि हम जानते हैं कार्ल बेंज पहले ऐसे व्यक्ति थे जिन्होंने कार का आविष्कार किया था। उनकी कार बिल्कुल अलग तरह की थी। कार्ल बेंज द्वारा बनाई गई कार तीन पहिए के वाहन की तरह दिखाई पड़ती थी। इस कार में साइकिल के आकार के पहिए लगे होते थे जिसका नाम कार्ल बेंज ने Motorwagen रखा था।

2. कार्ल बेंज ने इस कार को स्वयं ही डिजाइन किया था। उन्होने अपने द्वारा बनाए गए इस मोटरवैगन में 954 सीसी का हल्का इंटरनल कॉम्बस्शन इंजन लगाया था। इस कार को चलाने के लिए पेट्रोल का उपयोग किया जाता था।

3. अपने द्वारा बनाए गए इस कार में कार्ल बेंज ने प्रयोग में आने वाले बहुत जरूरी कल पुर्जों को भी लगाया था। जैसे स्पार्क प्लग थ्रोटल सिस्टम गियर शिफ्टर वाटर रेडिएटर एवं कैब्युरटर आदि है।

4. कार्ल बेंज ने इस कार का आविष्कार 1885 में ही कर लिया था परंतु उन्हें इस अविष्कार को लोगों के सामने लाने का अवसर 1886 में प्राप्त हुआ था। कार्ल बेंज ने पहली बार अपने इस मोटर कार का प्रदर्शन जर्मनी के मानहाइम शहर में 3 जुलाई 1886 को किया था।

5. कॉल बेंच ने मोटर वैगन पर काम शुरू करने से पहले लोहे की ढलाई का कारखाना प्रारंभ किया था। इस कारखाने में कार्ल बेंज को पैसे की बहुत हानि हुई थी जिसके कारण कार्ल बेंज को यह कारखाना बंद करना पड़ा था। उस वक्त कार्ल बेंज की पत्नी बर्था ने मोटर वैगन के निर्माण पर कार्य करने के लिए कार्ल बेंज को प्रोत्साहित किया था एवं उन्हें आर्थिक मदद भी प्रदान की थी।

6. कार्ल बेंज ने 1886 में अपने मोटर वैगन के दो मॉडल और भी तैयार किए मॉडल नंबर 2 एवं मॉडल नंबर 3। उनके मॉडल नंबर 2 में 1.5 हॉर्स पावर के एवं मॉडल नंबर 3 में 2 हॉर्स पावर के इंजन लगे हुए थे। कार्ल बेंज द्वारा बनाए गए मॉडल नंबर 3 की सबसे तेज रफ्तार 16 किलोमीटर प्रति घंटे थी।

7. कार्ल बेंज द्वारा बनाए गए मोटर बैगन को सबसे पहले सबसे लंबी दूरी तक उनकी पत्नी बर्था द्वारा ही चलाया गया था। कार्ल बेंज की पत्नी ने अपने दो बच्चों के साथ 5 अगस्त 1888 में 105 किलोमीटर लंबी यात्रा इस कार से पूरी की थी।

8. सन् 1894 में कार्ल बेंज ने Benz Velo नामक चार पहिए वाली पहली मोटर कार तैयार किया था। इस कार की सबसे अधिक रफ्तार 20 किलोमीटर प्रति घंटे थी एवं इसमें 3 हॉर्स पावर का इंजन भी लगा हुआ था।

9. Benz velo कार्ल बेंज द्वारा बनाई गई दुनिया की पहली प्रोडक्शन मोटर कार थी जिसे कार्ल बेंज ने आम लोगों के लिए प्रारंभ किया था। 1894 और 1902 के मध्य लगभग 1200 बेंच बिलो का गठन किया गया था।

कार का आविष्कार किसने किया।
कार का आविष्कार किसने किया।

बेन्ज़ से पूर्व मोटरकार बनाने के लिए किये गए प्रयास

1. Leonardo da Vinci ने 15वीं सदी के प्रारंभिक वर्षों में घोड़े के बिना चलने वाली गाड़ी का एक डिजाइन बनाया था जिसे तकनीकी विधि से भी चलाया जाता था। परंतु लियोनार्डो द विंची के सभी डिजाइन ओं की तरह उनका यह निर्माण भी उनके जीवनकाल में सफल नहीं हो सका।

हालांकि आज के समय में लियोनार्डो द विंची द्वारा बनाया गया यह प्रतिरूप हम फ्रांस के म्यूजियम चैटो क्लो लुसे में आसानी से देख सकते हैं। यह म्यूजियम शुरुआती समय में लिओनार्दो दा विंची के घर में हुआ करता था।

2. जिस प्रकार नदी में हवा की मदद से नाव में पाल लगाकर उसे चलाया जाता है ठीक उसी प्रकार चीन में भी लकड़ी के चार पहिया गाड़ियों को 15 वी शताब्दी के अंत में पाल लगाकर चलाया जाता था। जिसे sailing chariots कहते थे।

सोलवीं सदी में हालैंड के एक व्यक्ति साइमन स्टीवन ने भी एक ऐसी ही पाल वाली गाड़ी का निर्माण किया था। जिस पर 28 लोगों ने 2 घंटे में 64 किलोमीटर की यात्रा तय की थी।

3. एक फ्रांसीसी व्यक्ति निकोलस ने 1769 में स्टीम इंजन से चलने वाली एक तीन पहिया गाड़ी का निर्माण किया था जो केवल 1 घंटे में 3 किलोमीटर की दूरी तय कर सकती थी।

Read Also : Cycle ka avishkar kisne kiya। Full Details

Read Also : अमेरिका की जनसंख्या कितनी है। सम्पूर्ण जानकारी

निष्कर्ष ( Conclusion )

दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से आप ने जाना की कार का आविष्कार किसने किया साथ ही साथ हमने कार से जुड़ी हुई कई सारे मुख्य बातें भी हासिल की।

दोस्तो आशा करता हूं आपको कार का आविष्कार किसने किया से जुड़ी  पोस्ट पसंद आई होगी और आप को कार से जुड़ी कई सारी जानकारियां मिली होंगी यह आपको यह पोस्ट पसंद आती है तो उसे शेयर जरूर करें।

यदि इस पोस्ट से संबंधित कोई प्रश्न हो तो नीचे कमेंट के माध्यम से अवश्य पहुंचे हम आपके उत्तर अवश्य देंगे धन्यवाद ….

Leave a Comment